XRP-क्या-है-Ripple-क्रिप्टो-करेंसी-क्या-है-

XRP क्या है Ripple क्रिप्टो करेंसी क्या है What is XRP What is Ripple Crypto Currency

आज के इस लेख में हम एक ऐसी क्रिप्टो करेंसी के बारे में बात करेंगे जो कि हाल ही में चर्चा में आई है इसका नाम है XRP रिप्पल क्रिप्टोकरंसी और इसके बारे में आपको विस्तार में जानकारी बताएंगे की इसका भविष्य kaisa देखने को मिल रहा है और इसमें आपको इन्वेस्टमेंट करनी चाहिए या नहीं और क्या यह आगे जाकर लोगों को मुनाफा दे पाएगा और इससे संबंधित सभी विषयों पर विस्तार में बातचीत करेंगे तो आइए जानते हैं रिप्पल क्रिप्टोकरंसी क्या है

XRP  क्या है What is XRP in hindi?

XRP के बारे में जानने से पहले हम यह जान लेते हैं कि रिप्पल क्या होता है रिप्पल का इतिहास क्या है सिंपल की शुरुआत 2013 में jed mccalab के द्वारा की गई है और इनकी स्थापना इस समय ripple में दुनिया के सबसे बड़े निवेशकों को बुलाया गया और अब हम इसके फायदे जान लेते हैं

रिपल के क्या फायदे हैं

  1. रिपल का उद्देश्य भुगतान प्रणाली को और भी अधिक अच्छा और तेज बनाना है इसलिए यह बिटकॉइन की तुलना में अधिक स्तर है, 
  2. रिप्पल को एक इकाई के रूप में आधिकारिक मान्यता मिली हुई क्योंकि इसमें फॉक्स बैंक की मदद करना कई अन्य क्रिप्टोकरंसी से अलग है, 
  3. Ripple में किसी भी मुद्रा के साथ व्यापार करने की क्षमता है, 
  4. अब बात करते हैं कि XRP किसे कहते हैं 

XRP किसे कहते हैं? What is XRP in hindi?

XRP केंद्रीकृत क्रिप्टोकरंसी है जिसका निर्माण रिप्पल लैब के द्वारा किया गया है जो कि बैंकों और वित्तीय संस्थाओं के सभी रूपों को अपनी सीमा के पार लंदन की प्रणाली को और भी अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए डिजाइन किया गया है समझने वाली पहली बात यह है कि पीपल के माध्यम से हम कई सारी मुद्राओं में व्यापार कर सकते हैं इसीलिए बैंकों की क्रिप्टोकरंसी के रूप में माना जाता है, रिप्पल का उद्देश्य मौजूदा बैंकिंग प्रणाली को और अच्छा बनाना है जहां विदेशी भुगतान से पूंजी तथा सोना और यहां तक कि हवाई मेल की सुविधाएं मिलती है इसके निर्माण के पीछे यह लक्ष्य इस तरह के लेनदेन को और अधिक जल्दी तथा सस्ता बनाना है, 

2013 में रिपल ने XRP बिक्री की शुरुआत कर दी थी, 

रिप्पल ने बताया कि XRP का पेमेंट केवल मात्र 4 सेकंड में पूरा हो जाता है और इसी प्रकार xrp अपने पूरे दिन में 1500 से लेनदेन प्रति सेकंड संभाल सकता है, 

 XRP कैसे काम करता है

रिपल क्रिप्टो करेंसी की दुनिया से बिल्कुल अलग है वह बिटकॉइन क्रिप्टोकरंसी की जैसे काम नहीं करती है यह बिल्कुल भी ब्लॉक चेंज की टेक्नोलॉजी की तरह नहीं है यह स्वर्ग समिति के लिए प्रोटोकॉल के साथ डीएलटी टेक्निक का उपयोग करता है इसमें वे रिप्पल नेट के ढांचे के भीतर के कई नए लेन देन को स्थापित करता है इस प्रोटोकॉल का नाम रिप्पल प्रोटोकॉल कंज्यूम एल्गोरिथ्म के नाम पर रखा गया है इस तरह रिपल नेट के पास लेनदेन को मान्य करने के लिए विशेष सरवर और XRP टोकन है

रिप्पल हाईली सिक्योर है क्योंकि रिप्पल के इंडिपेंडेंस अवर द्वारा संचालित किया जाता है रिपल अधिकांश पर ही बैंकों को रखा जाता है जो कि एक साथी प्लेटफॉर्म तथा रिप्पल लैब से कनेक्ट हो आस्था ट्रिपल एप के द्वारा उपयोग में किया जाता है इसके अलावा यह अनुमान लगाया गया है कि 60℅ से अधिक token पर treder का कब्जा है तथा व्यापारी के हाथों में नहीं हैं, 

क्या रिप्पल एक अच्छा निवेश है

सबसे ज्यादा सुरक्षित निवेश करने जैसी कोई भी चीज आज तक नहीं बनी है प्रत्येक महीने के पीछे आपका एक जोखिम होता ही है किसी भी स्थिति में निर्णय लेना आपके ऊपर हैं कि आपके लिए रिपल में उमेश करना कितना अच्छा रहता रिपल में बहुत सारे पोटेंशियल रिवाज के साथ कम जोखिम वाला निवेश से जिसे आप अपने पोर्टफोलियो में अवश्य ही जुड़ सकते हैं 

यदि आप इसे लंबे समय तक निवेश करना चाहते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा हो सकता है हालांकि आपका मार्गदर्शन करने के लिए हम आपको कुछ फायदे और नुकसान बता देते हैं, 

XRP  मैं निवेश करने के फायदे

XRP  का मूल्य काफी सस्ता है-

अन्य क्रिप्टोकरंसी की तुलना में इसका मूल्य काफी ज्यादा सस्ता है हालांकि अभी कुछ दिनों में यह काफी ज्यादा बढ़ गया है परंतु अभी भी दूसरे क्रिप्टोकरंसी की तुलना में काफी अच्छा है और सस्ता है इसलिए जब आप इसे खरीदेंगे तो आपको इसके ज्यादा टोकन मिलेंगे जो आगे चलकर बढ़ते हैं तो आपको ज्यादा मुनाफा होगा, 

XRP मैं मुनाफा कमाना आसान है

क्योंकि इसका मूल्य बहुत ही कम है तो आपको मुनाफा कमाने में बहुत ही आसानी होगी क्योंकि जब आप इसकी कम कीमत में खरीदेंगे तो इसमें हल्के से बदलाव से आपक मुनाफे पर बहुत असर होगा और इससे मुनाफा कमाना ज्यादा आसान होगा अन्य क्रिप्टोकरंसी की तुलना में। 

अर्थव्यवस्था के लिए एक साथ ही काफी ज्यादा अच्छा है। 

Ripple  Xrp की स्थापना ब्लॉकचेन और क्रिप्टोकरंसी के साथ-साथ वास्तविक दुनिया से जुड़ी समस्याओं का समाधान करने के लिए क्या यह प्रमुख वित्तीय संस्थाओं के लिए समस्याओं का हल करता है जो कि धन के लेनदेन की प्रक्रिया को तेज करना है और यह अर्थव्यवस्था के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित हुआ है इसी कारण इसमें लोगों को ज्यादा विश्वास है और वह इस लोगों को ज्यादा मुनाफा दे रहा है।

XRP के नुकसान क्या है

यह एक open-source है

 इसका मतलब इसमें हमेशा आपको जोकिम रहता है और इसके कोड उपलब्ध होने के पश्चात बहुत सारे लोग इसे एक करने की कोशिश करते हैं उनमें से कुछ सफल होने की संभावना है संभव है। 

यह विकेंद्रीकृत नहीं है। 

XRP वास्तविक क्रिप्टोकरंसी नहीं है यह विकेंद्रीकरण और आर्थिक संप्रभुता के मूल्यों के खिलाफ जाता है जो कि कई लोग दावा करते हैं रिप्पल को विशेष रूप से बिट्टू को इनके विपरीत बैंकिंग और वित्तीय योग को के लिए विकसित किया गया है जो कि बिटकॉइन माहिम किया जा सकता है फिर भी उपयोगकर्ताओं के बीच गुमनाम रूप से कारोबार किया जाता है 1 साल की का मुख्य उद्देश्य औसत नागरिकों के व्यापार को स्क्रोल वैल्यू देना और बैंकिंग उद्योग के भीतर समस्याओं का हल करना है। 

Ripple के सामने सबसे बड़ी चुनौती है SWIFT

Ripple के सामने सबसे बड़ी चुनौती है यह क्योंकि यह वर्तमान में सबसे बड़ा अंतरराष्ट्रीय भुगतान नेटवर्क है झुमकी 11000 से भी अधिक संस्थाओं का सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला नेटवर्क है इसलिए यदि रिप्पल को आगे तक जाना है तो इसको इससे अच्छी तरीके से काम करना होगा और इसकी तुलना में आसान और सुरक्षित समाधान प्रदान करते रहना होगा, 

सारांश

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि XRP क्या है और इसकी शुरुआत किसने की इसकी शुरुआत कब की गई और इसमें निवेश करने पर हमें क्या-क्या फायदे तथा नुकसान देखने को मिल सकते हैं इसी के साथ इससे जुड़ी कई सारे विषयों पर बातचीत की है आशा करते हैं आपको हमारे द्वारा दिया गया जानकारी अच्छी लगे होगी यदि यह जानकारी आपको पसंद आई है तो अपने दोस्तों में इसे शेयर करें धन्यवाद,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *